विधानसभा उपचुनाव में 15 सीटों के लिए 248 उम्मीदवार

जिसके बाद गठबंधन साझेदार कांग्रेस और जद (एस) ने उपचुनाव में अलग-अलग उम्मीदवार उतारने का फैसला किया है।


कर्नाटक में 15 विधानसभा सीटों पर पांच दिसंबर को होने वाले उपचुनाव में 128 निर्दलीय उम्मीदवारों सहित कुल 248 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। एक चुनाव अधिकारी ने यह जानकारी दी। चुनाव अधिकारी ने बताया, नामांकन की अंतिम तिथि 18 नवंबर तक 248 उम्मीदवारों ने 353 नामांकन किए हैं।

नामांकनों की समीक्षा 19 नवंबर को तथा नाम वापस लेने की अंतिम तिथि 21 नवंबर है। मतगणना नौ दिसंबर को होगी। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और विपक्षी दल कांग्रेस तथा जनता दल (सेकुलर) सभी 15 सीटों पर अलग-अलग लड़ रहे हैं, जिससे मुकाबला त्रिकोणीय हो गया है।

जुलाई में तत्कालीन गठबंधन सरकार के खिलाफ कांग्रेस के 14 और जद (एस) के तीन बागी विधायकों द्वारा अपनी-अपनी सीटों से इस्तीफा देने के बाद उन्हें अयोग्य करार दिए जाने के कारण इन सीटों पर उपचुनाव कराया जा रहा है। पूर्व विधानसभा अध्यक्ष के.आर. रमेश कुमार ने 25-28 जुलाई को हालांकि पार्टी के व्हिप की उपेक्षा करने के कारण 17 विधायकों को कथित रूप से अयोग्य करार दिया था, लेकिन मई 2018 में हुए विधानसभा चुनाव के परिणाणों पर कर्नाटक हाईकोर्ट में एक मुकदमे कारण मुस्की (रायचूर जिला) और आर.आर. नगर (बेंगलुरू दक्षिण-पचिम) के विधानसभा चुनाव रद्द कर दिए गए हैं।

अथानी, कागवाड, गोकक, येल्लापुरा, हीरकपुर, रानीबेन्नूर, विजयनगर, चिकबल्लापुरा, के.आर. पुरा, यश्वंतपुरा, महालक्ष्मी लेआउट, शिवाजीनगर, होसकोट, के.आर. पेटे और हनसुर में उपचुनाव होने हैं। गठबंधन सरकार के बागी विधायकों की अनुपस्थिति में 23 जुलाई को विधानसभा में मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी के विश्वास मत साबित नहीं कर पाने के कारण 14 महीनों की गठबंधन सरकार गिर गई थी, जिसके बाद गठबंधन साझेदार कांग्रेस और जद (एस) ने उपचुनाव में अलग-अलग उम्मीदवार उतारने का फैसला किया है।


Registration Login
Sign in with social account
or
Lost your Password?
Registration Login
Sign in with social account
or
A password will be send on your post
Registration Login
Registration
Please Wait While Processing .....
Please Wait While Processing .....