राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का अभिभाषण: CAA ने किया राष्ट्रपिता के सपने को पूरा

संसद का बजट सत्र (Budget Session 2020) 31 जनवरी से शुरू हुआ. आज ही संसद के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Of India Ramnath Kovind) संबोधित किया. बजट सत्र का पहला चरण 11 फरवरी तक चलेगा. इसका दूसरा चरण 2 मार्च से शुरू होकर 3 अप्रैल को संपन्न होगा. 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का अभिभाषण: CAA ने किया राष्ट्रपिता के सपने को पूरा

नई दिल्ली: संसद का बजट सत्र (Budget Session 2020) 31 जनवरी से शुरू हुआ. आज ही संसद के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Of India Ramnath Kovind) संबोधित किया. बजट सत्र का पहला चरण 11 फरवरी तक चलेगा. इसका दूसरा चरण 2 मार्च से शुरू होकर 3 अप्रैल को संपन्न होगा. एक फरवरी को 2020-21 का केंद्रीय बजट लोकसभा में पेश किया जायेगा. इससे पहले ष्ट्रपति ने कहा,  मेरा यह विश्वास है कि आने वाले समय में भी हम सब मिलकर अपने देश के गौरवशाली अतीत से प्रेरणा लेते हुए, देश के उज्ज्वल भविष्य के लिए, हर संभव प्रयास करेंगे और अपने प्रयासों में सफल भी आइए, हम सब मिलकर नए भारत का सपना पूरा करें, हम सब मिलकर नया भारत बनाएं. जय हिंद!

राष्ट्रपति ने कहा, “Neighbourhood First” की नीति हमारी प्राथमिकता है. अपने पड़ोसियों के साथ-साथ विश्व के अन्य देशों के साथ हमारे संबंध मजबूत हुए हैं. यही कारण है कि अनेक देशों ने अपना सर्वोच्च सम्मान भारत को दिया है. आसियान और अफ्रीकी देशों के साथ अपने सहयोग को हम नए स्तर पर ले जा रहे हैं. इसी दशक में दुनिया को न्यू इंडिया का समावेशी, समृद्ध, समर्थ और सशक्त स्वरूप दिखाई देगा.  इसलिए, इस सदन के प्रत्येक सदस्य का तथा हर देशवासी का यह कर्तव्य है कि वे अपनी पूरी क्षमता के साथ प्रयास करें और अपने-अपने लक्ष्यों को प्राप्त करें. हमें यह हमेशा याद रखना चाहिए कि किसी भी विचारधारा के नेता या समर्थक होने से पहले हम देश के नागरिक हैं. हमारे देश की प्रतिष्ठा हमारी दलीय प्रतिबद्धताओं से कहीं बढ़कर है.राष्ट्रपति ने कहा, मेरी सरकार ने आतंकवाद फैलाने वालों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई के लिए सुरक्षा बलों को पूरी छूट दी हुई है.राष्ट्रपति ने कहा,बदलते समय में, देश की रक्षा से जुड़ी नई और जटिल चुनौतियों का सामना करने के लिए मेरी सरकार, सेनाओं को और भी सशक्त, प्रभावशाली और आधुनिक बना रही है. Chief of Defence Staff - CDS की नियुक्ति और Department of Military Affairs का गठन इसी दिशा में उठाया गया कदम है. सरकार द्वारा अंतरिक्ष में भी सुरक्षा के लिए ऐतिहासिक कदम उठाए गए हैं. A-Sat के सफल परीक्षण से भारत अंतरिक्ष में विशेष मारक क्षमता हासिल करने वाला दुनिया का चौथा देश बन गया है.राष्ट्रपति ने कहा, भारत के अंतरिक्ष कार्यक्रम का लक्ष्य, सदैव मानवता की सेवा रहा है. देश के अंतरिक्ष वैज्ञानिकों के अथक परिश्रम के कारण चंद्रयान-2 ने देश के युवाओं में टेक्नोलॉजी के प्रति नई ऊर्जा का संचार किया है. मेरी सरकार द्वारा चंद्रयान-3 को स्वीकृति दी जा चुकी है.  इसरो द्वारा मानव अंतरिक्ष यान कार्यक्रम- गगनयान तथा आदित्य-एक मिशन पर भी तेजी से कार्य हो रहा है.
 


Registration Login
Sign in with social account
or
Lost your Password?
Registration Login
Sign in with social account
or
A password will be send on your post
Registration Login
Registration
Please Wait While Processing .....
Please Wait While Processing .....