नीतीश कुमार का पवन वर्मा को जवाब, कहा- वे किसी भी पार्टी में शामिल हो सकते हैं, जिसे वह पसंद करते हैं

पवन वर्मा के अलावा जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने भी सबसे पहले NRC को लेकर मुद्दा उठाया था।


बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पार्टी नेता पवन वर्मा की चिट्ठी का जवाब देते हुए गुरुवार को कहा है कि वे किसी भी पार्टी में शामिल हो सकते हैं, जिसे वह पसंद करते हैं।मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि अगर किसी के पास कोई मुद्दा है तो वह पार्टी की बैठकों में इस पर चर्चा कर सकता है, लेकिन इस तरह के सार्वजनिक बयान आश्चर्यजनक हैं। वे जा सकते हैं और किसी भी पार्टी में शामिल हो सकते हैं, जिसे वह पसंद करते हैं और उन्हें मेरी शुभकामनाएं हैं। इस बयान पर पवन वर्मा ने कहा है कि नीतीश कुमार के इस कथन का स्वागत करते हैं कि पार्टी के भीतर चर्चा के लिए जगह है, जैसा कि मैंने उनसे पूछा था। क्या मेरा इरादा उन्हें चोट पहुंचाने का नहीं है। मैं चाहता हूं कि पार्टी में वैचारिक स्पष्टता हो। मेरे पत्र का जवाब देने के बाद, उसके बाद कार्रवाई का भविष्य तय करेगा आपको बताते जाए कि जनता दल यूनाइटेड ने अपने बागी नेता पवन वर्मा और प्रशांत किशोर के खिलाफ एक्शन लेने के संकेत दिए थे। पटना में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा था कि ये दोनों नेता पार्टी लाइन के खिलाफ जाकर लगातार बयानबाजी कर रहे हैं। इनकी बयानबाजी से पार्टी कोई फर्क नहीं पड़ता है। जनता दल यूनाइटेड नेता पवन वर्मा ने उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के उस बयान की खुलेआम आलोचना की थी, जिसमें मई से सितंबर के दौरान बिहार में NPR लागू करने का ऐलान किया गया था। पवन ने बीजेपी के साथ पार्टी के गठबंधन को लेकर भी लगातार आवाज उठाते रहे हैं। दिल्ली विधानसभा में भी जनता दल यूनाइटेड का बीजेपी के साथ चुनावी गठबंधन है और वह दो सीटों पर चुनाव लड़ रही है। पवन वर्मा के अलावा जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने भी सबसे पहले NRC को लेकर मुद्दा उठाया था।


Registration Login
Sign in with social account
or
Lost your Password?
Registration Login
Sign in with social account
or
A password will be send on your post
Registration Login
Registration
Please Wait While Processing .....
Please Wait While Processing .....