चीन ने बढ़ाया टैरिफ तो भड़क गए डोनाल्ड ट्रंप, कहा- हमें उनकी जरूरत नहीं

ट्रेड वॉर को लेकर चीन और अमेरिका में टकराव बढ़ता ही जा रहा है.

चीन ने बढ़ाया टैरिफ तो भड़क गए डोनाल्ड ट्रंप, कहा- हमें उनकी जरूरत नहीं

नई दिल्ली. ट्रेड वॉर को लेकर चीन और अमेरिका में टकराव बढ़ता ही जा रहा है. शुक्रवार को अमेरिकी उत्पादों पर चीन द्वारा दो नए शुल्क लगाए जाने पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भड़क गए. ट्रंप ने चीन पर हमला बोला और शुल्क बढ़ाने को 'अनुचित व्यापारिक संबंध' बताते हुए कहा कि चीन को 75 बिलियन डॉलर्स के अमेरिकी उत्पादों पर नए शुल्क नहीं लगाने चाहिए. ट्रंप ने इसे राजनीति से प्रेरित कदम बताया. इससे पहले चीन ने शुक्रवार को अमेरिकी उत्पादों पर नए शुल्क लगाए थे, जिसके बाद दोनों देशों के बीच ठन गई.

ट्रंप ने पलटवार करते हुए कहा कि अमेरिकी भी उत्पादों पर टैक्स बढ़ाएगा. अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, यूएस एक अक्टूबर से 250 बिलियन डॉलर के उत्पादों पर टैरिफ 25 प्रतिशत से बढ़ाकर 30 प्रतिशत करेगा. उन्होंने 300 बिलियन डॉलर के चीनी उत्पादों पर 10% से 15% तक की दर से शुल्क बढ़ाए जाने की धमकी दी. चीन और अमेरिका के तनाव के कारण चालू ट्रेड वॉर और बढ़ गया है, जिसने दुनियाभर में जारी आर्थिक मंदी को और बढ़ा दिया है, जिसका असर भारत में मंदी के तौर पर भी देखा जा रहा है. फिलहाल इसका कोई समाधान निकलता दिखाई नहीं दे रहा है.  

ट्रंप ने शुक्रवार को चीन में बिजनेस कर रही अमेरिकी कंपनियों से कोई विकल्प तलाशने को कहा. साथ ही वादा किया कि वाइट हाउस में इकनॉमिक टीम से मिलने के बाद वह आगे एक्शन लेंगे. ट्रंप ने ट्वीट में कहा, ' हमें चीन की जरूरत नहीं, हम उनके बिना बहुत अच्छे हैं. हमारी बड़ी कंपनियों को चीन के अलावा विकल्प खोजने चाहिए, जिसमें कंपनियों को वापस घर लाना भी शामिल है.'

चीन के व्यापार विशेषज्ञों का कहना है कि इस कदम से अमेरिका और चीन के बीच गतिरोध और गहराएगा. यूएस-चाइना बिजनेस काउंसिल के अध्यक्ष क्रेग एलन ने कहा, 'हर किसी को पता था कि यह होगा. यह कदम चौंकाने वाला और निराशाजनक है.'


Registration Login
Sign in with social account
or
Lost your Password?
Registration Login
Sign in with social account
or
A password will be send on your post
Registration Login
Registration
Please Wait While Processing .....
Please Wait While Processing .....