यूपी हिंसा को लेकर मायावती ने नाम लिए बिना समाजवादी पार्टी और कांग्रेस पर साधा निशाना

इसमें संभल में कई बसें जला दी गई और लखनऊ में एक पुलिस और कई गाडियों को आग के हवाले कर दिया।


 बहुजन समाज पार्टी (BSP) की अध्यक्ष मायावती ने गुरुवार को राजधानी लखनऊ और संभल में हुए हिंसक विरोध प्रदर्शन पर बिना किसी का नाम लिए समाजवादी पार्टी(SP) और कांग्रेस पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि किसी भी विरोध प्रदर्शन या धरने में हिंसा के लिए कोई जगह नहीं है। बसपा मुखिया मायावती ने शुक्रवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि हमने नागरिकता (संशोधन) विधेयक का विरोध किया है और इसका विरोध करते रहेंगे, लेकिन अन्य पार्टियों की तरह हम सार्वजनिक संपत्ति को नष्ट करने और हिंसा पर विश्वास नहीं करते हैं।

उन्होंने कहा कि मैं अपनी पार्टी के लोगों से अपील करती हूं कि इस समय देश में व्याप्त एमरजेंसी के दौरान सड़कों पर न उतरें। इसकी जगह विरोध के दूसरे तरीकों को अपनाएं। ज्ञात हो कि नागरिकता (संशोधन) विधेयक के विरोध में सरकार काफी सतर्कता बरत रही है। पूरे उत्तर प्रदेश में धारा 144 लागू है, जबकि गाजियाबाद, लखनऊ, मुजफ्फरनगर, बरेली, आजमगढ़ समेत कई जिलों में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं। आपको बताते जाए कि गुरुवार को समाजवादी पार्टी, लेफ्ट और कांग्रेस का CAA के विरोध में प्रदर्शन हिंसक रूप धारण कर लिया। इसमें संभल में कई बसें जला दी गई और लखनऊ में एक पुलिस और कई गाडियों को आग के हवाले कर दिया।


Registration Login
Sign in with social account
or
Lost your Password?
Registration Login
Sign in with social account
or
A password will be send on your post
Registration Login
Registration
Please Wait While Processing .....
Please Wait While Processing .....